देश भर में कोरोना संक्रमण के 478 मामले आए सामने, 9 की मौत, 35 लोग ठीक होकर घर लौटे

नई दिल्ली:

कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या देश में लगातार बढ़ रही है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के ताजा आंकड़ों के मुताबिक, COVID-19 से संक्रमित लोगों की संख्या 478 हो गई है। इनमें से 9 लोगों की मौत हो चुकी है जबकि 35 लोग सफलतापूर्वक इलाज कराकर अपने-अपने घर लौट चुके हैं।

भारत में संक्रमित कुल 478 लोगों में से 40 विदेशी हैं। दुनिया के देशों की बात करें तो 3 लाख से अधिक लोग संक्रमित हैं और 15 हजार से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है। 186 देशों में कोरोना वायरस का संक्रमण फैल चुका है।

भारत में कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए करीब पूरे देश में लॉकडाउन कर दिया गया है. पंजाब, महाराष्ट्र, पुडुचेरी और चंडीगढ़ में कर्फ्यू लागू कर दिया गया है। सरकारें लगातार आदेश का पालन करने का अनुरोध कर रही है ताकि इसके प्रकोप को बढ़ने से रोका जा सके।

केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी किए गए ताजा आंकड़े

महाराष्ट्र में अब तक सबसे ज्यादा 71 लोगों में वायरस के संक्रमण की पुष्टि हुई है जिसमें से तीन विदेशी हैं। संक्रमित पाए गए लोगों में से दो की मौत हो गई है। दूसरे नंबर पर मौजूद केरल में अब तक साठ लोग वायरस से संक्रमित हैं। केरल में सात विदेशी नागरिक भी कोरोना से संक्रमित हैं। हालांकि केरल में संक्रमित तीन लोगों का सफलतापूर्वक इलाज भी किया गया है। दक्षिण भारतीय राज्य कर्नाटक में अब तक 33 मामले सामने आए हैं। राज्य में दो का सफलतापूर्वक इलाज किया जा चुका है, हालांकि कर्नाटक में भी वायरस से संक्रमित एक मरीज की मौत हो गई है।

संक्रमण से प्रभावित राज्यों में उत्तर प्रदेश में एक विदेशी व्यक्ति समेत कुल 31 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। राज्य में अब तक नौ लोगों का इलाज करने में राज्य सरकार को सफलता मिली है। राजधानी दिल्ली में एक विदेशी नागरिक समेत कुल 29 संक्रमित मामले सामने आए हैं। पांच मरीजों का सफलतापूर्वक इलाज करके उन्हें अस्पतालों से छुट्टी दे दी गई है। पश्चिमी राज्य गुजरात में संक्रमण के 29 मरीज भर्ती हैं। एक व्यक्ति की संक्रमण से मौत हो चुकी है।

हरियाणा में 14 विदेशी नागरिक सहित कुल 26 लोग संक्रमण की चपेट में हैं। 11 लोगों का इलाज करके उन्हें डिस्चार्ज किया जा चुका है। संघ शासित प्रदेश जम्मू कश्मीर में 4 मामले हैं, जबकि लद्दाख में 13 मामले सामने आ चुके हैं। तेलंगाना में भी दस विदेशी नागरिकों समेत कुल 33 मामले सामने आए हैं। एक को इलाज के बाद डिस्चार्ज कर दिया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *