एशियाई खेल: अरपिंदर सिंह ने तिहरी कूद में जीता स्वर्ण

जकार्ता:

18वें एशियाई खेलों के 11वें दिन अरपिंदर सिंह ने पुरुषों की तिहरी कूद में भारत को स्वर्ण पदक दिलाया। अरपिंदर की तीसरी कूद (16.77 मीटर) ने उन्हें स्वर्ण पदक दिलाया। उज्बेकिस्तान के रसलान कुरबानोव (16.62मीटर) ने रजत और चीन के शुओ काओ (16.56मीटर) ने कांस्य पर कब्जा जमाया। भारत के ही दूसरे खिलाड़ी राकेश बाबू छठे स्थान पर रहे।

48 सालों बाद तिहरी कूद में भारत ने जीता गोल्ड

अरपिंदर का गोल्ड इस मायने में भी बेहद कीमती है क्योंकि एशियाई खेलों की तिहरी कूद स्पर्धा में किसी भारतीय की ओर से 48 सालों के बाद स्वर्ण पदक जीता गया है। इससे पहले महिंदर सिंह गिल ने 1970 के एशियाई खेलों में भारत को स्वर्ण पदक दिलाया था।

अरपिंदर के स्वर्ण के साथ ही एशियाई खेल 2018 में भारत के अब तक दस स्वर्ण हो गए हैं।
अरपिंदर की पहली कूद असफल रही। इसके बाद उन्होंने दूसरी कूद में 16.58 मीटर की छलांग लगाकर चोटी पर जगह बना ली। तीसरी छलांग उन्होंने 16.77 मीटर की लगाई जो एशियन गेम्स में उन्हें गोल्ड मेडल दिलवाने के लिए काफी था। अरपिंदर की चौथी छलांग 16.08 मीटर रही। उनकी पांचवीं और छठी छलांग सफल नहीं रही। एक समय तक सुरेश बाबू दूसरे स्थान पर चल रहे थे लेकिन बाद में वह फिसल गए।

ट्रैक एंड फिल्ड में भारत का चौथा स्वर्ण

इन एशियाई खेलों के ट्रैक ऐंड फील्ड में यह भारत का चौथा स्वर्ण पदक है। इससे पहले नीरज चोपड़ा ने भाला फेंक, तजिंदर पाल सिंह तूर ने शॉट पुट और मनजीत सिंह ने 800 मीटर की दौड़ में गोल्ड मेडल जीता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *