बिहार: दो दिनों में लू के थपेड़ों से 161 लोगों की मौत

पटना:

बिहार में लू के थपेड़ों से दो दिनों में 161 लोगों की मौत हो गई है। लगातार दूसरे दिन बड़ी संख्या में लोगों की मौत हुई। रविवार को 101 लोगों की जान चली गई। शनिवार को गया और आसपास के इलाकों में 60 से अधिक लोग मरे थे।

राज्य में सबसे भयंकर स्थिति रही औरंगाबाद में। रविवार को सिर्फ औरंगाबाद में 35 और मौत हुईं। मगध क्षेत्र के बाद शाहाबाद और पटना समेत अन्य जिलों से भी लू से मरने की खबरें आईं।

रविवार को सबसे अधिक प्रभावित मगध और शाहाबाद क्षेत्र रहा। इन दोनों क्षेत्रों में 73 और मौत हुई है। आंकड़े देखें तो औरंगाबाद में 35, गया में 24, नवादा 6, भभुआ 2 और सासाराम में 11 की मौत हो गई है। वहीं प्रदेश के अन्य जिलों में भी 23 लोगों की मौत हो गई है। इसी तरह, अस्पतालों में 300 से अधिक लोग भर्ती हैं।

लू से रविवार को पटना जिले में छह, छपरा और बक्सर में तीन-तीन, शेखपुरा, नालंदा में दो-दो, और आरा, बेगूसराय में एक-एक की मौत हो गई। पटना में गंगा पाथ वे प्रोजेक्ट में तैनात सुरक्षा जवान ठाकुर प्रसाद (50) जो मूल रूप से मध्य प्रदेश का रहने वाला था, की लू से मौत हो गई।

लू से लखीसराय के हलसी थाना क्षेत्र के सिंहपुर मुशहरी के समीप एक खेत से करीब 55 वर्षीय अज्ञात व्यक्ति की लाश मिली है। खगडिय़ा के कुर्बन पंचायत स्थित सठमा गांव निवासी वृद्ध सुरेश शर्मा की मौत रविवार को लू लगने से हो गई। बांका के बेलहर थाना क्षेत्र के पंचरुखी गांव में लू लगने से सुमा देवी (56) की मौत इलाज के दौरान हो गई है। चौरा गांव में भी एक व्यक्ति की मौत लू लगने से होने की खबर है। जमुई में भी लू से दो लोगों के मरने की खबर है।

शनिवार को औरंगाबाद में लू से एक ही दिन में 34 लोगों की मौत हो गई थी। यह बिहार के किसी एक जिले में एक दिन में लू से मौत का सर्वाधिक आंकड़ा है।

आपदा प्रबंधन विभाग के प्रधान सचिव प्रत्यय अमृत ने रविवार को बताया कि मृतकों के परिजनों को अनुग्रह अनुदान राशि मुहैया कराये जाने की प्रक्रिया शुरू कर दी गयी है ।

रविवार को भी गर्मी का कहर जारी रहा

राजधानी पटना रविवार को लगातार दूसरे दिन बिहार में सबसे गर्म शहर रहा। राजधानी और आसपास के इलाकों में लोग देर रात तक गर्म हवा से बेहाल रहे। रविवार को भी पटना का अधिकतम तापमान, सामान्य से 9 डिग्री अधिक चढ़ कर 45 डिग्री सेल्सियस रहा। हवा में नमी की मात्रा 23 फीसद रही। गया का अधिकतम तापमान 37.6 डिग्री की जगह 44.4 डिग्री और न्यूनतम 30.6 डिग्री सेल्सियस रहा। भागलपुर का अधिकतम तापमान सामान्य से पांच डिग्री अधिक रहा। यहां अधिकतम तापमान 41 डिग्री और न्यूनतम 28.6 डिग्री दर्ज किया गया। पूर्णिया का अधिकतम तापमान 36.2 डिग्री और न्यूनतम 28.3 डिग्री सेल्सियस रहा।

भीषण गर्मी को देखते हुए शहर में 19 जून तक के लिए स्कूलों को बंद रखने का आदेश जिलाधिकारी कुमार रवि ने शनिवार को दिया था ।

सोमवार को भी चैन नहीं

मौसम विभाग के अनुसार बिहार में दक्षिण-पश्चिम मॉनसून के 22-23 जून तक आने की उम्मीद है। विभाग के अनुसार सोमवार को भी पटना, गया, औरंगाबाद, नालंदा, राजगीर, मुजफ्फरपुर, छपरा और मोतिहारी लू की चपेट में रहेंगे। हालांकि राज्य में 18 जून को तेज हवा के साथ कुछ जगहों पर बूंदाबांदी की संभावना है। इससे थोड़ी राहत की उम्मीद है। मौसम विभाग के पूर्वानुमान के अनुसार पटना, छपरा और मुजफ्फरपुर 18 जून तक हीट वेव की चपेट में रहेंगे। औरंगाबाद, गया, नालंदा और राजगीर सोमवार तक लू की चपेट में रहेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *