उप-चुनाव: 51 विधानसभा सीटों पर 58.03 %, दो लोकसभा सीटों पर 53.45% मतदान

नई दिल्ली:

देश के 18 राज्यों की 51 विधानसभा सीटों पर सोमवार को 58.03 फीसदी और दो लोकसभा सीटों बिहार के समस्तीपुर और महाराष्ट्र के सतारा में 53.45 फीसदी मतदान हुआ।

केरल में मतदाताओं ने भारी बारिश के बीच मतदान किया। वहां सड़कें जलमग्न हो गयी और कुछ मतदान केंद्रों में पानी भी घुस गया।

उत्तर प्रदेश की 11 विधानसभा सीटों पर हुए उपचुनाव में सोमवार को शाम छह बजे मतदान समाप्त होने तक 47.66 प्रतिशत वोट पड़े। सहारनपुर जिले में गंगोह सीट पर सबसे अधिक 62.50 प्रतिशत जबकि लखनऊ (कैंट) पर सबसे कम 29.53 प्रतिशत मतदान हुआ।

निर्वाचन आयोग द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार, 51 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव में करीब 58.03 फीसदी मतदान हुआ। मतदान शांतिपूर्ण बीता।

केरल में भारी बारिश के बीच पांच विधानसभा सीटों पर उपचुनाव हुआ। एर्नाकुलम में बारिश से जलमग्न सड़कों और कुछ मतदान केंद्रों में पानी भरने के बीच मतदाताओं ने वोट डाला। इसके चलते एर्नाकुलम में सबसे कम 58.13 फीसदी मतदान हुआ। राज्य में औसत मतदान 70.10 प्रतिशत रहा। सबसे अधिक 80.47 फीसदी मतदान अरूर सीट पर हुआ।

निर्वाचन आयोग द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार, अरुणाचल प्रदेश में खोंसा पश्चिम सीट (92.94 प्रतिशत) पर सबसे अधिक मतदान हुआ, छत्तीसगढ़ में नक्सल प्रभावित चित्रकोट (74.84 प्रतिशत), तेलंगाना के हुजुरनगर (84.75 प्रतिशत) और मध्य प्रदेश के झाबुआ (62.01 प्रतिशत) और मेघालय के शेल्ला (84.56 फीसदी) में मतदान हुआ। इन राज्यों में एक-एक सीट पर उपचुनाव हुआ।

असम में चार विधानसभा सीटों पर उपचुनाव में 75.95 प्रतिशत वोट पड़े । बिहार उपचुनाव में यह आंकड़ा 50.31 प्रतिशत रहा जहां पांच विधानसभा सीटों और समस्तीपुर लोकसभा सीट पर उपचुनाव हुआ। महाराष्ट्र में सतारा लोकसभा सीट पर उपचुनाव में 61.45 प्रतिशत से अधिक मतदान हुआ।

अन्य उत्तरी राज्यों में हिमाचल प्रदेश में पच्छाद और धर्मशाला सीटों पर औसत 68.76 प्रतिशत मतदान हुआ जबकि पंजाब में चार विधानसभा सीटों फगवाड़ा (आरक्षित), जलालाबाद, दाख और मुकेरियां पर उपचुनाव में 66.49 फीसदी मतदान हुआ। राजस्थान में मंडावा और खींवसर विधानसभा सीटों पर 65.95 प्रतिशत मतदान हुआ। गुजरात में छह विधानसभा सीटों पर औसतन 53.69 प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया। अंतिम आंकड़ों की अभी पुष्टि करना बाकी है।

तमिलनाडु में विक्रवांदी और नांगुनेरी विधानसभा सीट पर अन्नाद्रमुक और द्रमुक के बीच कड़ा मुकाबला देखने को मिला। इन सीटों पर क्रमश: 84.36 प्रतिशत और 66.35 प्रतिशत मतदान हुआ। नांगुनेरी में मतदान के दौरान कथित तौर पर ठहरने के लिए कांग्रेस सांसद एच वसंतकुमार को गिरफ्तार कर लिया गया। उन्हें बाद में एक अदालत में पेश किया गया जहां से जमानत पर रिहा कर दिया गया। वसंतकुमार के लोकसभा में चुने जाने पर इस सीट से इस्तीफे के बाद ही यहां उपचुनाव कराना पड़ा। दूसरी ओर, पुडुचेरी में कामराज नगर में 69.44 फीसदी मतदान हुआ।

भाजपा और उसके सहयोगी दलों के पास इन विधानसभा सीटों में से करीब 30 सीटें थी जबकि कांग्रेस ने 12 पर जीत दर्ज की थी। शेष सीटें क्षेत्रीय दलों के पास थी।

सिक्किम में मुख्यमंत्री प्रेम सिंह तमांग ने पोकलोक कामरांग विधानसभा क्षेत्र से चुनाव लड़ा। पूर्वोत्तर राज्य में तीन सीटों पर उपचुनाव में 70 प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया। भारतीय फुटबॉल टीम के पूर्व कप्तान भाईचुंग भूटिया भी गंगटोक से हमरो सिक्किम पार्टी (एचएसपी) के टिकट पर चुनावी मैदान में हैं।

इन चुनावों के लिए मतगणना 24 अक्टूबर को होगी।

निर्वाचन आयोग ने कर्नाटक में 15 विधानसभा सीटों के लिए भी उपचुनाव की घोषणा की थी लेकिन अब उन पर दिसंबर में चुनाव होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *