बैंक डिफाल्टरों के खिलाफ सीबीआई ने देश भर में 61 जगहों पर मारे छापे

नई दिल्ली:

राष्ट्रीयकृत बैंकों का कर्ज भुगतान करने में चूक करने वालों के खिलाफ केंद्रीय जांच एजेंसी सीबीआई ने देश भर के 18 शहरों में 61 से अधिक स्थानों पर विशेष अभियान के तहत छापे मारे। केंद्रीय एजेंसी ने 1,139 करोड़ रुपये मूल्य के कर्ज को लेकर 17 मामले दर्ज करने के बाद बुधवार को यह कार्रवाई की।

राजधानी दिल्ली के अलावा मुंबई, लुधियाना, ठाणे, वलसाड, पुणे, पलानी, गया, गुरुग्राम, चंडीगढ़, भोपाल, सूरत और कोलार में छापेमारी की गयी है।

विभिन्न राष्ट्रीयकृत बैंकों से मिली शिकायतों के आधार पर सीबीआई की विभिन्न इकाइयों के 300 से अधिक अधिकारियों ने ऋण भुगतान में चूक करने वालों के 61 ठिकानों पर छापेमारी की। दिल्ली में सीबीआई निदेशक ऋषि कुमार शुक्ला और वरिष्ठ अधिकारी सीधे तरह पर कार्रवाई की निगरानी कर रहे थे।

मुंबई में लगातार बारिश के कारण सड़कों पर जलभराव के बावजूद अधिकारियों ने भगोड़े हीरा कारोबारी जतिन मेहता द्वारा स्थापित विनसम डायमंड्स के प्रवर्तकों एवं निदेशकों के ठिकानों पर छापेमारी की।

मेहता के खिलाफ इस अभियान के तहत नया मुकदमा दर्ज कराया गया था।एक्जिम बैंक के 202 करोड़ रुपये के कर्ज का भुगतान करने में कथित तौर पर चूक को लेकर मेहता के खिलाफ 16वीं प्राथमिकी दर्ज करायी गयी है।

यूनियन बैंक ऑफ इंडिया की शिकायत पर दो अन्य कंपनियों के भी मुंबई स्थित पांच ठिकानों पर छापेमारी की गयी। अधिकारियों ने बताया कि शाम तक एजेंसी 17 शिकायत दर्ज कर चुकी है एवं अभी और शिकायत दर्ज की जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *