केंद्र ने राष्ट्रपति के अभिभाषण को ऐतिहासिक उपलब्धियों का प्रतिबिंब बताया, कांग्रेस ने कहा भ्रामक

नई दिल्ली:

संसद के बजट सत्र के दौरान दोनों सदनों की संयुक्त बैठक में राष्ट्रपति के अभिभाषण को सत्ता पक्ष ने मोदी सरकार की पिछले पांच सालों के दौरान सभी क्षेत्रों में ऐतिहासिक उपलब्धियों का प्रतिबिंब बताते हुये कहा है कि अभिभाषण से देशवासियों के मन में बेहतर भविष्य का विश्वास मजबूत होगा। दूसरी तरफ विपक्षी दल कांग्रेस ने इसे भ्रामक और जनता को धोखा देने वाला करार देते हुए दावा किया कि देश की जनता का अपमान करने वाला ऐसा कोई अभिभाषण पहले नहीं हुआ।

बृहस्पतिवार को राष्ट्रपति के अभिभाषण के बाद संसदीय कार्य मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने इस पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुये कहा, ‘‘राष्ट्रपति का उद्बबोधन ऐतिहासिक और अभूतपूर्व है। यह सरकार की सफलताओं और उपलब्धियों से भरा हुआ है।’’


उधर कांग्रेस के वरिष्ठ प्रवक्ता आनंद शर्मा ने इसे भ्रामक और लोगों को धोखा देने वाला करार दिया। आनंद शर्मा ने दावा किया कि देश की जनता का अपमान करने वाला ऐसा कोई अभिभाषण पहले कभी नहीं हुआ। उन्होंने कहा, ‘‘मेक इन इंडिया को लेकर बड़े बड़े दावे किए गए। लेकिन इसके तहत भारत में क्या बना? मेक इन इंडिया का लोगो भी विदेश की एक कंपनी से कॉपी किया हुआ है।’’शर्मा ने आरोप लगाया, ‘‘ ये अभिभाषण लोगों को धोखा देने वाला है। लोगों के विवेक को चुनौती देता और अपमानित करता है। यह भ्रामक और नीरस था। अभिभाषण के माध्यम से जनता को अपमानित करने का काम कभी नहीं हुआ। हम इसकी निंदा करते हैं।’’

तोमर ने सरकार पर आधिकारिक आंकड़ों से खिलवाड़ करने के विपक्ष के आरोपों को खारिज करते हुये कहा कि ये आरोप विपक्ष की हताशा को दर्शाते हैं। उन्होंने कहा कि वास्तव में कृषि, रोजगार और विकास सहित हर क्षेत्र में सरकार की उपलब्धियों से बौखलाये विपक्ष के पास कोई मुद्दे ही नहीं हैं, इसलिये ऐसे निराधार आरोप लगाये जा रहे हैं।

इस दौरान पर्यटन मंत्री के जे अल्फोंस ने राष्ट्रपति के अभिभाषण की सराहना करते हुये कहा कि पिछले 65 साल में जितने काम हुये हैं, मौजूदा सरकार ने उससे ज्यादा काम बीते चार सालों में किये हैं। इसे बेहतर प्रशासन का सर्वश्रेष्ठ मॉडल बताते हुये अल्फोंस ने कहा कि निर्धन तबके के लिये आवास, शौचालय और गैस कनेक्शन सहित अन्य मूलभूत सुविधायें दी है। अल्फोंस ने बेरोजगारी बढ़ने संबंधी रिपोर्टों को खारिज करते हुये कहा ‘‘अकेले पर्यटन मंत्रालय द्वारा ही पिछले चार सालों में पर्यटन क्षेत्र में 1.4 करोड़ रोजगार के नये अवसर सृजित किये गये हैं।’’ सरकार के आंकड़ों की विश्वसनीयता पर विपक्ष द्वारा उठाये गये सवालों पर उन्होंने कहा, ‘‘रोजगार सृजन के बारे में हमारे मंत्रालय के इस आंकड़े पर कोई विवाद नहीं है। ये आंकड़े संयुक्त राष्ट्र की एजेंसी और विश्व पर्यटन परिषद के आंकड़ों पर आधारित है।’’

सरकार ने लोगों को नयी उम्मीद दी, देश का सम्मान बढ़ाया: राष्ट्रपति

आवास एवं शहरी विकास राज्यमंत्री हरदीप सिंह पुरी ने कहा कि राष्ट्रपति ने अभिभाषण में निर्धन वर्ग के लोगों को आवास सुविधा मुहैया कराने की योजना को मोदी सरकार की उपलब्धि बताया है। पुरी ने निर्माण क्षेत्र में भी नये रोजगार सृजित नहीं होने के विपक्ष के आरेाप को खारिज करते हुये कहा ‘‘भवन निर्माण और कृषि क्षेत्र रोजगार सृजन के प्रमुख स्रोत हैं। इन क्षेत्रों में अधिकांश रोजगार असंगठित क्षेत्र में माना जाता है और इसके सही आंकड़े जुटाने की अभी कोई व्यवस्था न होना एक समास्या है। अगर अर्थव्यवस्था की वृद्धि दर 7.5 प्रतिशत है तो इससे साफ है कि रोजगार सृजन किये बिना आर्थिक वृद्धि दर का यह स्तर पाना मुमकिन नहीं है।’’ आवास योजना के तहत निर्मित घरों की कीमत में गिरावट की राष्ट्रपति द्वारा उम्मीद जताये जाने के बारे में पुरी ने कहा कि घर की कीमत बाजार में मांग आपूर्ति पर निर्भर करती है। नोटबंदी के बाद बाजार में लगे कालेधन पर रेरा कानून के माध्यम से नकेल कसी गयी। इसका सकारात्मक असर हुआ है।

उन्होंने कहा कि सरकार की जिम्मेदारी ऐसा माहौल बनाने की होती है जिससे घर के खरीददार बाजार की गैरजरूरी ताकतों के प्रभाव में न आयें और गैरकानूनी निवेशकों से बचें। इसके लिये निर्माण क्षेत्र में मजबूती लाने और खरीददारों के हितों के संरक्षण की दिशा में सरकार द्वारा उठाये गये कदमों की राष्ट्रपति ने अभिभाषण में जानकारी दी है।

इससे पहले केन्द्र सरकार के पांच साल का एक तरह से रिपोर्ट कार्ड पेश करते हुए राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने बृहस्पतिवार को कहा कि इसने पिछले साढ़े चार साल में लोगों को नयी आशा और विश्वास दिया तथा देश का सम्मान बढ़ाया है जबकि 2014 के लोकसभा चुनावों से पहले देश ‘‘अस्थिरता के दौर से गुजर रहा था।’’ कोविंद ने बजट सत्र के पहले दिन संसद के केन्द्रीय कक्ष में दोनों सदनों की संयुक्त बैठक में अपने अभिभाषण में सरकार की उपलब्धियों का उल्लेख करते हुए यह भी कहा कि इस सरकार ने नया भारत बनाने का संकल्प लिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *