बगावत से जुझ रही कांग्रेस ने हरियाणा में घोषणापत्र के जरिए लोक लुभावन वादों का पिटारा खोला

चंडीगढ़:

हरियाणा में बगावत से दो चार हो रही कांग्रेस पार्टी ने विधानसभा चुनाव के लिए जारी किए अपने घोषणापत्र में किसानों की कर्ज माफी, स्थानीय लोगों के लिए निजी कंपनियों की नौकरियों में आरक्षण, राज्य सरकार की नौकरियों में महिलाओं के लिए 33 फीसदी आरक्षण, बेरोजगार युवकों के लिए बेरोजगारी भत्ता तथा महिलाओं के लिए मुफ्त बस यात्रा जैसे अनेकों सुविधा देने का लोकलुभावन वादा किया है। कांग्रेस ने राज्य में सरकार बनने पर किसानों और घरेलू उपभोक्ताओं की श्रेणियों में मुफ्त बिजली देने का भी वादा किया।

कांग्रेस ने घोषणापत्र में एक ऐसा वादा भी किया है जिससे विवाद खड़ा हो सकता है। पार्टी ने कहा है कि निजी कंपनियों में 75 प्रतिशत नौकरियां राज्य के युवाओं के लिए आरक्षित होंगी। हालांकि इस नीति को लागू करने का तरीका नहीं सुझाया गया है। ‘संकल्प पत्र’ नाम से जारी घोषणापत्र में कहा गया है कि अगर कांग्रेस 21 अक्टूबर को हुए विधानसभा चुनाव के बाद राज्य की सत्ता में आती है तो किसानों को 24 घंटे के अंदर कर्ज माफी दी जाएगी।

अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के महासचिव और राज्य के प्रभारी गुलाम नबी आजाद ने कहा कि घोषणापत्र में महिलाओं पर विशेष ध्यान दिया गया है। पार्टी ने महिलाओं को पंचायती राज संस्थानों, नगर निगमों तथा नगर परिषदों में भी 50 प्रतिशत आरक्षण देने का वादा किया।

विधवा, दिव्यांग या अविवाहित महिलाओं को 5100 रुपये प्रति महीने का भत्ता दिया जाएगा। गर्भवती महिलाओं को उनकी गर्भावस्था के तीसरे महीने से 3100 रुपये प्रति माह की सहायता राशि दी जाएगी।

कांग्रेस ने यहां जारी घोषणापत्र में कहा कि अगर किसी संपत्ति पर महिला का मालिकाना हक है तो उस पर कर में 50 प्रतिशत छूट मिलेगी। हरियाणा रोडवेज की बसों में महिलाओं को मुफ्त यात्रा की सुविधा मिलेगी।

तीस पन्नों के घोषणापत्र में किसानों को सरकार बनने के 24 घंटे के अंदर कर्ज माफी की घोषणा करने की बात कही गयी है। इसमें कहा गया है कि भूमिहीन किसानों को भी कृषि ऋण में छूट दी जाएगी।

इसमें वादा किया गया है कि दो एकड़ तक जमीन वाले किसानों को मुफ्त बिजली मिलेगी। सभी घरेलू उपभोक्ताओं के लिए 300 यूनिट तक बिजली मुफ्त मिलेगी।
बेरोजगार परास्नातकों को प्रति महीने 10 हजार रुपये और बेरोजगार स्नातकों को 7000 रुपये प्रति माह बेरोजगारी भत्ता दिया जाएगा।

हरियाणा कांग्रेस की अध्यक्ष कुमारी शैलजा ने घोषणा की कि पार्टी ने अनुसूचित जाति और अत्यंत पिछड़ा वर्ग समुदाय से आने वाले कक्षा 1 से 10वीं तक के छात्रों को 12 हजार रुपये सालाना तथा कक्षा 11 और 12 के विद्यार्थियों के लिए 15 हजार रुपये सालाना वजीफा देने का भी वादा किया है।

शैलजा ने कहा कि कांग्रेस की सरकार बनने पर राज्य में एक अनुसूचित जाति आयोग बनाया जाएगा। भाजपा नीत राज्य सरकार के तहत हुए कथित घोटालों की जांच के लिए विशेष जांच समिति भी बनाई जाएगी।

प्रदेश में मादक पदार्थों की बढ़ती समस्या पर चिंता जताते हुए उन्होंने कहा कि इस पर रोकथाम के लिए विशेष कार्य बल का गठन किया जाएगा।

आजाद ने कहा कि पार्टी अपने चुनावी वादों को पूरा करने के लिए प्रतिबद्ध है। उन्होंने दावा किया कि जब केंद्र में कांग्रेस नीत संप्रग सरकार थी तो चुनावी वादे पूरे किये थे।

घोषणापत्र जारी करने के मौके पर हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री और पार्टी के राज्य विधायक दल के नेता भूपेंद्र सिंह हुड्डा, घोषणापत्र समिति की अध्यक्ष किरण चौधरी तथा पूर्व रेल मंत्री पवन कुमार बंसल भी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *