डीडी झारखंड बना सेटेलाइट चैनल, पीएम के ट्वीट के साथ डीडी फ्री डिस पर प्रसारण शुरु

  • सूचना एवं प्रसारण सचिव अमित खरे ने बताया एतिहासिक क्षण
  • डीडी फ्री डिस के जरिए पूरे देश में देखा जा सकेगा डीडी झारखंड
  • डीडी के 11 क्षेत्रीय चैनल को डीडी फ्री डिस पर दिखाने का फैसला

उत्तम आनंद वत्स की रिपोर्ट

रांची (झारखंड):

सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने आज झारखंड की बहुप्रतीक्षित मांग को पूरा कर दिया है। डीडी झारखंड आज से सेटेलाइट चैनल हो गया है। यह अब डीडी फ्री डिस पर उपलब्ध होगा। जिसे देश में कहीं से भी देखा जा सकता है। सूचना एवं प्रसारण सचिव श्री अमित खरे की अध्यक्षता में इंपवार्ड कमेटी ने डीडी झारखंड सहित 11 क्षेत्रीय चैनलों को डीडी फ्री डिस पर दिखाने का फैसला लिया । प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने झारखंड सहित ग्यारह राज्यों के क्षेत्रीय चैनलों के पहली बार सेटेलाइट पर दिखाने की औपचारिक घोषणा ट्विटर के माध्यम से की। उन्होंने इन राज्यों के लोगों को बधाई दी और क्षेत्रीय चैनलो के देशव्यापी उपस्थित सुनिश्चित होने पर प्रसन्नता व्यक्त की।

केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण सचिव श्री अमित खरे ने इसे ऐतिहासिक क्षण बताया है। उन्होंने कहा कि झारखंड सहित अन्य क्षेत्रीय चैनलो को सेटेलाइट चैनल बनाने की योजना को अमलीजामा पहनाने का व्यापक असर देखने को मिलेगा। इन चैनलों की पहुंच संपूर्ण भारत में होगी। राज्य से बाहर रहने वाले लोग भी अपनी भाषा बोली और संस्कृति से जुड़े कार्यक्रम आसानी से देख सकेंगे। इन रिजनल चैनलो के फ्री डिस पर नहीं होने से स्थानीय लोगों में निराशा थी। जिसे अब खत्म कर दिया गया है। अब दूसरे प्रदेश में बैठे लोग भी डीडी झारखंड सहित अन्य क्षेत्रीय चैनलों के गुणवत्तापूर्ण कार्यक्रम निर्बाध रुप से देख सकेंगे। इससे क्षेत्रीय चैनलो की दर्शक संख्या में इजाफा होगा और प्रसारण क्वालिटी में भी सुधार होगा।

वर्तमान में दूरदर्शन के 24 चैनल चौबीस घंटे प्रसारण करते हैं। वहीं राज्यों के मुख्यालय से प्रसारित 15 चैनल टेरेस्ट्रियल एनालॉग से करीब 5 घंटे कार्यक्रम प्रसारित करते हैं। इनमें डीडी झारखंड भी शामिल था। सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय की सहमति के बाद झारखंड देश के प्रमुख राज्यों में शामिल हो गया है, जहां भारत के लोक सेवा प्रसारक का क्षेत्रीय सेटेलाइट चैनल उपलब्ध हैं। शनिवार को प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के ट्वीट के साथ ही चैनल का सेटेलाइट पर प्रसारण आरंभ हो गया।

गौरतलब है कि डीडी झारखंड वर्तमान में छह घंटे का कार्यक्रम बनाता है। जिनमें करेंट अफेयर्स, कला संस्कृति और प्रादेशिक समाचार के कार्यक्रम शामिल हैं। राज्य की जनजातीय समाज और उनकी संस्कृति से जुड़े कार्यक्रम दिखाने वाला झारखंड का एक मात्र चैनल है। पिछले महीने सूचना एवं प्रसारण सचिव श्री अमित खरे ने रांची, डाल्टनगंज, गोड्डा, हजारीबाग में प्रसार भारती की आधारभूत संरचना को मजबूत करने के लिए राशि आवंटित करने का फैसला लिया था। अमित खरे के सचिव बनने के बाद से ही झारखंड में दूरदर्शन और आकाशवाणी के कार्यक्रम में सुधार और बेहतर प्रसारण क्वालिटी को लेकर लगातार काम चल रहा है। जिससे राज्य की जनता को फायदा हो रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *