दिल्ली: भाजपा ने पांच सीटों पर सबसे बड़ी जीत के अंतर का नया रिकॉर्ड बनाया

नई दिल्ली:

दिल्ली में सभी सातों सीट पर जीत दर्ज करने वाली भारतीय जनता पार्टी ने यहां पांच संसदीय क्षेत्रों में नया रिकॉर्ड भी बनाया है जहां उसके उम्मीदवारों ने अपने विरोधियों को अब तक के सर्वोच्च अंतर से हराया।

पश्चिमी दिल्ली में प्रवेश वर्मा ने अपना ही रिकार्ड तोड़ा

पश्चिमी दिल्ली संसदीय सीट से मौजूदा सांसद प्रवेश वर्मा ने दूसरी बार रिकॉर्ड तोड़ 5.78 लाख मतों के अंतर से जीत दर्ज की है। इस सीट पर दूसरे स्थान पर रहे कांग्रेस के महाबल मिश्रा को 2,87,162 लाख मत मिले। वर्मा ने दिल्ली में सबसे ज्यादा अंतर से जीत के अपने ही रिकॉर्ड को तोड़ा है। वर्मा ने 2014 में इसी सीट पर आम आदमी पार्टी के उम्मीदवार जरनैल सिंह को 2.68 लाख से ज्यादा मतों के अंतर से हराया था। इस बार उन्हें इस सीट पर कुल डाले गए 14,41,601 मतों में से 8,65,648 मत मिले।

पहली बार मैदान में उतरे गायक हंसराज हंस ने भी बनाया रिकार्ड

उत्तर पश्चिम दिल्ली (सुरक्षित) सीट से भाजपा उम्मीदवार हंस राज हंस ने अपने करीबी प्रतिद्वंद्वी आप के गुगन सिंह पर 5,53,075 मतों के अंतर से जीत दर्ज की। गायक से राजनेता बने हंस को कुल पड़े 14,02,962 मतों में से 8,48,663 मत मिले जबकि सिंह के खाते में सिर्फ 2,94,766 मत मिले। उदित राज ने 2014 में यह सीट भाजपा के टिकट पर एक लाख छह हजार से ज्यादा मतों के अंतर से जीती थी।

सलामी बल्लेबाज रहे गौतम गंभीर ने लगाया छक्का

क्रिकेटर से अभिनेता बने पूर्वी दिल्ली के भाजपा उम्मीदवार गौतम गंभीर ने कांग्रेस के अरविंदर सिंह लवली को 3,91,222 मतों के अंतर से शिकस्त दी। गंभीर को 6,96,156 मत मिले जबकि लवली के हिस्से में 3,04,934 मत आए। पांच साल पहले भाजपा के महेश गिरि ने यह सीट 1,90,463 मतों के अंतर से जीती थी।

रमेश बिधुड़ी भी अपने साथियों से पीछे नहीं

दक्षिण दिल्ली से भगवा पार्टी के गुर्जर चेहरा रमेश विधुड़ी ने पहली बार चुनावी मैदान में उतरे आप के राघव चड्ढा को 3,67,043 मतों के अंतर से हराया। यह इस सीट पर रिकॉर्ड है। उन्होंने 2014 में यह सीट 1,07,000 मतों के अंतर से जीती थी।

मनोज तिवारी ने शीला दीक्षित को रिकार्ड मतो से धूल चटाई

उत्तर पूर्वी दिल्ली सीट से चुनाव लड़ रहे दिल्ली प्रदेश भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी ने तीन बार प्रदेश की मुख्यमंत्री रहीं शीला दीक्षित को रिकॉर्ड 3,66,102 मतों के अंतर से हराया।

हर्षवर्धन और मिनाक्षी लेखी रिकार्ड बनाने से चूके

केंद्रीय मंत्री हर्षवर्धन और भाजपा नेता मीनाक्षी लेखी अपनी जीत का अंतर 2014 की जीत के अंतर से ज्यादा रखने में कामयाब नहीं रहे। नयी दिल्ली सीट से भाजपा की मौजूदा सांसद लेखी ने अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी कांग्रेस उम्मीदवार अजय माकन को 2,56,504 मतों के अंतर से हराया। चांदनी चौक सीट से पार्टी के उम्मीदवार हर्षवर्द्धन की जीत का अंतर शहर में सबसे कम था और उन्होंने 2,28,145 मतों के अंतर से जीत दर्ज की।

आप उम्मीदवार जमानत भी नहीं बचा पाए

सत्ताधारी आम आदमी पार्टी के तीन उम्मीदवार चांदनी चौक से पंकज कुमार गुप्ता, नयी दिल्ली से बृजेश गोयल और उत्तर पूर्वी दिल्ली से दिलीप पांडे अपनी-अपनी जमानत भी नहीं बचा सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *