धोनी के दस्ताने पर विशेष बल का ‘बलिदान चिह्न’ आईसीसी को नागवार गुजरा

साउथम्पटन:

महेंद्र सिंह धोनी द्वारा भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच मैच के दौरान दस्ताने पर लगाया भारतीय सेना के विशेष बल पैराशूट रेजीमेंट का बलिदान चिह्न भले ही प्रशंसकों में लोकप्रिय हो रहा हो लेकिन अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद ने इसे नियमों के खिलाफ बताते हुए गुरूवार को बीसीसीआई से इस बैज को हटाने का अनुरोध किया।

आईसीसी की महाप्रबंधक क्लेयर फर्लोंग ने कहा कि शीर्ष संस्था ने भारतीय क्रिकेट बोर्ड से इस चिह्न को हटाने का आग्रह किया है। भारत को रविवार को आस्ट्रेलिया के खिलाफ अगला मैच खेलना है।

फर्लोंग ने कहा, ‘‘यह नियमों के खिलाफ है और हमने इसे हटाने का आग्रह किया है। ’’

यह पूछने पर कि पैराशूट रेजिमेंट के मानद लेफ्टिनेंट कर्नल धोनी को आईसीसी दिशानिर्देंशों के उल्लघंन के लिये जुर्माना लगाया जा सकता है तो उन्होंने कहा, ‘‘पहले उल्लघंन के लिये नहीं, सिर्फ इसे हटाने का अनुरोध। ’’

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ विश्व कप के पहले मैच में धोनी के विकेटकीपिंग दस्तानों पर सभी की नजरें गई जब कैमरे ने इन पर फोकस किया जिस पर विशेष बल का चिन्ह बना हुआ था। धोनी ने पहले भी ये दस्ताने शायद पहने होंगे लेकिन अब विश्व कप में टीवी की नजर में आने के बाद सोशल मीडिया पर उनकी तारीफों के पुल बांधे जा रहे हैं ।

भारतीय सेना के लिये महेंद्र सिंह धोनी का प्रेम किसी से छिपा नहीं है और पैराशूट रेजिमेंट के मानद लेफ्टिनेंट कर्नल ने विश्व कप में सेना के प्रति खास तरीके से सम्मान जताया ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *