दुत्ती चंद ने वर्ल्ड यूनिवर्सिटी गेम्स में जीता स्वर्ण, भारत के लिए एतिहासिक क्षण

नई दिल्ली:

भारत की स्टार एथलीट दुत्ती चंद ने नेपल्स में चल रहे वर्ल्ड यूनिवर्सिटी गेम्स में महिलाओं की सौ मीटर की दौड़ में स्वर्ण पदक जीत कर इतिहास रच दिया। यह पहला मौका है जब किसी भारतीय ने वर्ल्ड यूनिवर्सिटी गेम्स में स्वर्ण पदक जीता है।

दुत्ती चंद ने 11.32 सेकेंड में अपनी दौड़ पूरी कर स्वर्ण पदक पर कब्जा किया। यूनिवर्सिटी गेम्स के इतिहास में कोई भी भारतीय एथलीट इससे पहले सौ मीटर की फाइनल मुकाबले में क्वालिफाई तक नहीं कर पाया था।

अपनी इस ऐतिहासिक सफलता से उत्साहित दुत्ती चंद ने कहा, “वर्ल्ड यूनिवर्सिटी गेम्स में भारत की ओर से पहली बार पदक जीतने वाली एथलीट बनने पर मुझे खुशी है। मैं ये पदक अपने गुरू सामंतजी, जिन्होंने मेरे कठिन वक्त में मेरा साथ दिया, ओडिशा के लोगों और मुख्यमंत्री नवीन पटनायक को समर्पित करती हूं जिन्होंने हर तरह से मेरी मदद की।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने दुत्ती की इस ऐतिहासिक सफलता पर उन्हें बधाई दी।

खेल मंत्री किरण रिजिजू ने अपने ट्वीट में फाइनल दौड़ का वीडियो ट्वीट किया और दुत्ती चंद को इस एतिहासिक सफलता पर बधाई दी।

मुकाबले में स्वीटजरलैंड की अजला डेल पोंटे ने 11.33 सेकेंड निकाल कर दूसरे नंबर पर रहीं। 11.41 सेकेंड के साथ दुत्ती सेमीफाइनल पहुंची थी और सोमवार को सेमीफाइनल में उन्होंने 11.58 सेकेंड का समय निकाल कर फाइनल मुकाबले के लिए प्रवेश किया था।

सौ मीटर दौड़ में दुत्ती चंद का अब तक सर्वश्रेष्ठ 11.24 सेकेंड का रहा है। दो बार की एशियन चैम्पियन दुत्ती सौ मीटर की राष्ट्रीय रिकार्डधारी भी हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *