एफआईएच सीरीज फाइनल्स: भारत ने रूस को 10-0 से रौंदा

भुवनेश्वर:

एफआईएच सीरीज फाइनल्स हाकी टूर्नामेंट के प्रबल दावेदारों में शुमार भारत ने गुरूवार को यहां अपने शुरुआती मैच में कमजोर रूस को 10-0 से रौंदकर 2020 ओलंपिक में क्वालीफाई करने के अभियान की शानदार शुरूआत की।

पूल बी के इस एकतरफा मुकाबले में ड्रैगफ्लिकर हरमनप्रीत सिंह ने 32वें और 48वें तथा स्ट्राइकर आकाशदीप सिंह ने 41वें और 55वें मिनट में दो-दो गोल दागे। नीलकांत शर्मा ने 13वें, सिमरनजीत सिंह ने 19वें, अमित रोहिदास ने 20वें, वरूण कुमार ने 33वें, गुरसाहिबजीत सिंह ने 38वें और विवेक सागर प्रसाद ने 45वें मिनट में गोल किये।

भारत ने हालांकि धीमी शुरूआत की, वो भी ऐसी टीम के खिलाफ जो विश्व रैंकिंग में 22वें स्थान पर काबिज है। पहले हाफ में भारतीय टीम थोड़ी ढीली दिखी और कुछ मौकों पर मूव को गोल में नहीं बदल सकी। लेकिन एक बार लय बनाने के बाद उसने लगातार गोल दाग दिये।

विश्व रैंकिंग पर पांचवें स्थान पर काबिज भारत के लिये 13वें मिनट में नीलकांत ने गोल की शुरूआत की। अगले ही सेकेंड में नीलकांत को फिर गोल करने का मौका मिला जब रूसी गोलकीपर मरात गाफोरोव ने इसे रोक दिया। 19वें मिनट में भारत ने बढ़त दोगुनी कर दी जब सुमित की रिवर्स हिट के गोलकीपर द्वारा रोके जाने के बाद रिबाउंड पर सिमरनजीत ने गोल कर दिया। एक मिनट में भारत को तीसरा पेनल्टी कार्नर मिला जब रोहिदास ने 3-0 से बढ़त बनाने में कोई गलती नहीं।

मेजबान को एक और शार्ट कार्नर मिला लेकिन टीम इसका फायदा नहीं उठा सकी। बाद में भारतीय टीम ने रूस के लचर डिफेंस पर इच्छानुसार गोल दागे। हरमनप्रीत और वरूण ने लगातार मिनट में दो पेनल्टी कार्नर को गोल में तब्दील किया जबकि गुरसाहिबजीत और आकाशदीप ने क्रमश: 38वें और 41वें मिनट में दो फील्ड गोल दागे। युवा प्रसाद ने भी अपना नाम स्कोरशीट में नाम दर्ज कराया जिसके बाद हरमनप्रीत ने पेनल्टी कार्नर को गोल में बदला। हूटर बजने से पांच मिनट पहले आकाशदीप ने दूसरा गोल किया।

अब पूल के दूसरे मैच में भारतीय टीम पोलैंड से भिड़ेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *