बिहार में प्रचंड गर्मी: राजधानी पटना में तपीश ने तोड़ा 52 सालों का रिकार्ड

पटना:

बिहार में सूर्य देवता आग उगल रहे हैं। शनिवार को राजधानी पटना में सूर्य के तपीश ने पिछले 52 सालों का रिकार्ड तोड़ दिया। शनिवार को पटना का तापमान सामान्य से नौ डिग्री अधिक 46 डिग्री रिकार्ड किया गया। यह पटना के मौसमी इतिहास में दूसरा सबसे अधिक तापमान रहा। इससे पहले 9 जून, 1966 को पटना का ऑल टाइम रिकॉर्ड तापमान 46.6 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया था।

आइएमडी के मुताबिक शनिवार को पटना बिहार का सबसे गर्म, जबकि देश में दूसरा सबसे गर्म शहर माना गया। शनिवार को देश में सबसे अधिक तापमान 46.2 डिग्री सेल्सियस पूर्वी उत्तरप्रदेश के सुल्तानपुर में में रिकार्ड किया गया।

न्यूनतम तापमान रहा 31 डिग्री सेल्सियस

आइएमडी पटना के मुताबिक समूची राजधानी लू के आगोश में रही। सूर्योदय के समय राजधानी का तापमान 31 डिग्री रहा। तापमान की यह स्थिति सामान्य से चार डिग्री अधिक रही। यही दिन का न्यूनतम तापमान भी रहा। 12 बजे तक पारा 44 पार कर गया था।

दो बजे पारा 45 डिग्री सेल्सियस को पार कर गया। तीन बजे तक पारा चरम पर पहुंच चुका था। शहर का एंबिएंट तापमान 3:15 बजे 46 डिग्री सेल्सियस से कुछ अंश अधिक तक पहुंच गया था। गर्मी का आलम यह था कि शहर के बाजार एवं सड़कों पर अघोषित कर्फ्यू-सा महसूस हुआ। बहुत जरूरी होने पर ही लोग घरों से बाहर निकले। शहर के वातावरण में आर्द्रता केवल 15 फीसदी रही।

अगले तीन दिन लू की चेतावनी

आइएमडी पटना के मुताबिक पटना शहर में अगले तीन दिन लू चलेगी। 18 और 21 जून के बीच आंधी-पानी की संभावना है। उल्लेखनीय है कि पटना से कुछ ही कम तापमान साउथ वेस्ट के दूसरे शहरों में रहा। गया का तापमान 45 डिग्री सेल्सियस रहा। औरंगाबाद में तापमान 44 डिग्री रिकार्ड किया गया। शनिवार को गया का अधिकतम 45.20 डिग्री, भागलपुर का अधिकतम 41.50 डिग्री और मुजफ्फरपुर अधिकतम 40.60 डिग्री दर्ज किया गया।

मौसम विभाग के अनुसार रविवार को पटना के साथ गया, राजगीर, नालंदा, औरंगाबाद, नवादा और भागलपुर के आसपास के क्षेत्र लू की चपेट में रहेंगे। इन सभी शहरों में तापमान 44 डिग्री के आसपास रहने की उम्मीद है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *