‘संस्कृति विमर्श’ का आयोजन 11 मई को

  • आखिल भारतीय संत समिति और गंगा महासभा के संयुक्त तत्वावधान में होगा आयोजन
  • देश की सांस्कृतिक राजधानी काशी में ‘संस्कृति विमर्श’ का कार्यक्रम आयोजन
  • आयोजन में काशी के सभी मठ एवं सम्प्रदाय के संत पधारेंगे
  • सनातन धर्म के 127 सम्प्रदायों का अखिल भारतीय प्रतिनिधि संगठन है अखिल भारतीय संत समिति
  • समाज में उत्कृष्ट कार्य और देश व संस्कृति के प्रति समर्पित रहने वाले लोगों को किया जाएगा सम्मानित

वाराणसी:

रथयात्रा स्थिति गंगा महासभा के केंद्रीय कार्यालय पर शुक्रवार को आयोजित पत्रकारवार्ता में स्वामी जीतेन्द्रानन्द सरस्वती जी ने वाराणसी में आयोजित होने वाले कार्यक्रम ‘संस्कृति विमर्श’ की विस्तारपूर्वक जानकारी दी। उन्होंने बताया कि कबीरचौरा के पिपलानी कटरा स्थित सरोजा पैलेस में 11 मई (शनिवार) को अपराह्न तीन बजे अखिल भारतीय संत समिति और गंगा महासभा के संयुक्त तत्वावधान में उक्त कार्यक्रम का आयोजन होगा।

इसी क्रम में दोनों संगठनों के महामंत्री स्वामी जीतेन्द्रानन्द जी ने बताया कि गंगा सप्तमी के पावन पर्व पर भारतरत्न पूज्य महामना पं. मदनमोहन मालवीय द्वारा स्थापित संगठन गंगा महासभा के साथ मिलकर देश की सांस्कृतिक राजधानी काशी में ‘संस्कृति विमर्श’ का कार्यक्रम आयोजन हो रहा है। अखिल भारतीय संत समिति सनातन धर्म के 127 सम्प्रदायों का अखिल भारतीय प्रतिनिधि संगठन है। इस आयोजन में काशी के सभी मठ एवं सम्प्रदाय के संतों का पावन सानिध्य भी प्राप्त होगा।

जगद्गुरु शंकराचार्य ज्योतिषपीठाधीश्वर वासुदेवानन्द सरस्वती जी महाराज पधारेंगे

उन्होंने बताया कि उक्त कार्यक्रम में जगद्गुरु शंकराचार्य ज्योतिषपीठाधीश्वर वासुदेवानन्द सरस्वती जी महाराज का सानिध्य प्राप्त होगा। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि आरएसएस के अखिल भारतीय कार्यकारिणी सदस्य माननीय श्री इंद्रेश कुमार जी होंगे। विशिष्ट अतिथि के रूप में महानिर्वाणी अखाड़ा के अंतरराष्ट्रीय महासचिव श्री महंत रविंद्रपुरी जी महाराज, दिगम्बर अखाड़ा (इंदौर) के महामंडलेश्वर मनमोहन दास जी, अ.भा.सं.स. के महामंत्री महंत बालक दास जी और केंद्रीय मंत्री (वि.हि.प.) अशोक तिवारी जी उपस्थित होंगे।

कार्यक्रम के दौरान समाज में उत्कृष्ट कार्य और देश व संस्कृति के प्रति समर्पित रहने वाले लोगों को विशेष सम्मान दिया जाएगा जिनमें प्रो. शिवजी उपाध्याय, प्रो. नागेंद्र पांडेय, प्रो. चतुभुर्ज नाथ तिवारी, प्रो. यदुनाथ दूबे, प्रो. हृदय रंजन शर्मा, पद्मभूषण प्रो. देवी प्रसाद द्विवेदी और पद्मश्री डा. राजेश्वर आचार्य सहित कई विशिष्टजन शामिल हैं।

पत्रकारवार्ता में दंडी स्वामी विमलदेव आश्रम, ब्रह्मचारी वागीश स्वरूप, पं. रविशंकर द्विवेदी, गोविंद शर्मा, विनय तिवारी, मयंक कुमार, विवेक शंकर तिवारी, बृजेश चन्द्र पाठक, अभिषेक मिश्र ‘प्रिंस’, अभिषेक द्विवेदी ‘गणेश’ , विकास मिश्र, गौतम पाठक, राजेश प्रजापति, मनोज तिवारी, परमहंस मिश्र आदि लोगों की उपस्थिति रही।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *