केरल के साहद ने माइक्रोसॉफ्ट को बचाया बग से, 40 करोड़ अकाउंट्स को था खतरा

नई दिल्ली:

केरल के एक ऐप सिक्यॉरिटी इंजीनियर साहद एन के माइक्रोसॉफ्ट के चालीस करोड़ से भी अधिक अकाउंट्स को हैक होने से बचा लिया। साहद ने दरअसल माइक्रोसॉफ्ट के एप्लिकेशन में बग का पता लगाया और उसको ठीक करने में भी माइक्रोसॉफ्ट की मदद की। माइक्रोसॉफ्ट को इस बग के बारे में जून में जानकारी दी गई और नवंबर के अंत तक समस्या को सुलझा लिया गया।

इस बग से माइक्रोसॉफ्ट के 40 करोड़ अकाउंट्स पर हैक होने का खतरा था। माइक्रोसॉफ्ट ने इस बग का पता लगाने के लिए साहद को इनाम दिया है।

माइक्रोसॉफ्ट के इन 40 करोड़ अकाउंट्स में माइक्रोसॉफ्ट के Office 365 और Outlook ई-मेल्स की सर्विसेज भी शामिल हैं। साहद सेफ्टी डिटेक्टिव नाम के साइबर सिक्यॉरिटी पोर्टल में काम करते हैं। इनको माइक्रोसॉफ्ट में ऐसी कई कमियां और बग दिखे, जिनकी वजह से हैकर्स माइक्रोसॉफ्ट आउटलुक, माइक्रोसॉफ्ट स्टोर और माइक्रोसॉफ्ट स्वे अकाउंट को आसानी से हैक कर सकते थे और वह भी केवल यूजर को एक लिंक पर क्लिक करने का झांसा देकर।

अपनी इस सफलता पर सेफ्टी डिटेक्टिव ने बताया, ‘जैसे ही हमें इन कमियों का पता चला हमनें माइक्रोसॉफ्ट से उनके रिस्पॉन्सिबल डिस्क्लोजर प्रोग्राम के तहत संपर्क कर इसे ठीक करने के लिए साथ में काम करना शुरू कर दिया।’ इन कमियों के बारे में माइक्रोसॉफ्ट को इसी साल जून में बता दिया गया था और नवंबर के अंत तक इस समस्या को सुलझा लिया गया।

साहद कहते हैं, ‘माइक्रोसॉफ्ट की इन कमियों को दूर करने के लिए जो खाका तैयार किया गया था उससे माइक्रोसॉफ्ट आउटलुक और माइक्रोसॉफ्ट स्वे को पूरी तरह से सुरक्षित किया जा सकता है। हालांकि हमें उम्मीद है कि यह माइक्रोसॉफ्ट के दूसरे अकाउंट्स के लिए भी कारगर साबित होगा।’

साहद को सबसे पहले माइक्रोसॉफ्ट के डोमेन ‘success.office.com’ के बारे में पता चला कि इसे सही तरीके से कन्फीगर नही किया गया है। इसके बाद जब उन्होंने और जांच की तब उन्हें मालूम हुआ कि इसके अलावा माइक्रोसॉफ्ट ऑफिस, माइक्रोसॉफ्ट स्टोर और स्वे में भी कुछ बग्स मौजूद हैं जो इनके अकाउंट्स की निजता के लिए हानिकारक हो सकता है।

साहद ने पिछले साल सोशल मीडिया जाइंट फेसबुक को भी इसी तरह के एक आपदा से बचाया था जिसके लिए उन्हें फेसबुक की ओर से बग बाउंटी भी मिल चुका है। साहद ने एक सहयोगी रीसर्चर के साथ मिलकर माइक्रोसॉफ्ट के बग को ठीक किया है जिसके लिए माइक्रोसॉफ्ट ने उन्हें पुरस्कार के तौर पर कुछ धनराशि भी दी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *