आईसीसी पुरस्कारों में कोहली ने गाड़े झंडे : टेस्ट, वनडे टीम के कप्तान भी घोषित

दुबई:

क्रिकेट की पिच पर रोज नए रिकार्ड बना रहे भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली का जलवा मंगलवार को आईसीसी के सालाना पुरस्कारों में भी देखने को मिला जिसमें ‘क्लीन स्वीप’ करते हुए भारतीय कप्तान ने टेस्ट, एकदिवसीय और साल के ओवरआल सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी बनने वाले दुनिया के पहले क्रिकेटर बन गए । उन्हें आईसीसी ने साल के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ियों से भरी टेस्ट और एकदिवसीय टीम का कप्तान भी घोषित किया।

साल 2018 में शानदार प्रदर्शन करने वाले कोहली क्रिकेट इतिहास के पहले खिलाड़ी बन गये है जिन्हें साल के सर्वश्रेष्ठ क्रिकेटर को दी जाने वाली सर गारफील्ड सोबर्स ट्रॉफी के साथ आईसीसी के सर्वश्रेष्ठ टेस्ट और एकदिवसीय खिलाड़ी के पुरस्कार के लिये चुना गया है। यह लगातार दूसरा साल है जब कोहली ने सर गारफील्ड सोबर्स ट्रॉफी अपने नाम की है। आईसीसी की वोटिंग अकादमी ने सर गारफील्ड सोबर्स ट्रॉफी के लिए सर्वसम्मति से कोहली का चयन किया जहां दक्षिण अफ्रीका के तेज गेंदबाज कैगिसो रबाडा दूसरे स्थान पर रहे। रबाडा साल के सर्वश्रेष्ठ टेस्ट क्रिकेटर की दौड़ में भी कोहली से पिछड़ कर दूसरे स्थान पर रहे। अफगानिस्तान के लेग स्पिनर राशिद खान आईसीसी साल के सर्वश्रेष्ठ एकदिवसीय खिलाड़ी के पुरस्कार में भी कोहली के बाद दूसरे स्थान पर रहे।

आईसीसी ने बयान में कहा, ‘‘ कोहली आईसीसी के इन तीनों प्रमुख पुरस्कारों को एक साथ जीतने वाले पहले खिलाड़ी बने है इसके साथ ही उन्हें आईसीसी टेस्ट और एकदिवसीय टीमों का कप्तान भी घोषित किया गया है।’’

कोहली ने पिछले कैलेंडर वर्ष (2018) के दौरान 13 टेस्ट मैचों में 55.08 की औसत से 1,322 रन बनाए। इस दौरान उन्होंने पांच शतकीय पारियां भी खेली। उन्होंने 14 वनडे में छह शतकों के साथ 133.55 की शानदार औसत से 1202 रन बनाए। भारतीय कप्तान ने टी20 अंतरराष्ट्रीय में 211 रन बनाए।

आईसीसी से जारी विज्ञप्ति में कोहली ने कहा, ‘‘ यह उस कड़ी मेहनत का नतीजा है जो आप पूरे साल करते हैं। वैश्विक स्तर आईसीसी से ऐसा सम्मान मिलने पर आप एक क्रिकेटर के रूप में गर्व महसूस करते हैं क्योंकि आप समझते हैं कि इस खेल में कई खिलाड़ी हैं।’’भारतीय कप्तान ने कहा, ‘‘ जाहिर है यह मेरे लिए बहुत गर्व का क्षण है और यह ऐसा है जो आपको ऐसी चीजों को दोहराते रहने के लिए और अधिक प्रेरणा देता है क्योंकि आपको क्रिकेट के स्तर को बनाए रखना है और लगातार प्रदर्शन करना है।’’

इन पुरस्कारों में पंत को इस साल का उभरता हुआ क्रिकेटर घोषित किया गया।

आईसीसी की टेस्ट और वनडे टीम की कमान भी कोहली को

आईसीसी की टेस्ट और वनडे टीम की कमान भी भारतीय कप्तान विराट कोहली को सौंपी गई है। आईसीसी की साल की सर्वश्रेष्ठ टीम में भारत और न्यूजीलैंड के तीन – तीन खिलाड़ियों को जगह मिली है। जबकि एकदिवसीय टीम में भारत और इंग्लैंड के चार-चार खिलाड़ियों को चुना गया है। टेस्ट टीम में कोहली के अलावा भारतीय खिलाड़ियों में विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत और तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह को शामिल किया है। कोहली के अलावा बुमराह इकलौते ऐसे खिलाड़ी है जो टेस्ट और एकदिवसीय दोनों टीमों में जगह बनाने में सफल रहे।

एकदिवसीय टीम में कोहली के साथ सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा, स्पिनर कुलदीप यादव और बुमराह भारत का प्रतिनिधित्व कर रहे है जबकि इंग्लैंड से इसमें जो रूट, जानी बेयरस्टा, जोस बटलर और बेन स्टोक्स को जगह मिली है।
तीस साल के कोहली सबसे पहले 2008 में भारत अपनी कप्तानी में भारत को आईसीसी अंडर-19 विश्वकप का खिताब दिलाने के बाद सुर्खियों में आये थे। उन्होंने साल का अंत एकदिवसीय और टेस्ट टीम में शीर्ष रैंकिंग वाले खिलाड़ी के तौर पर किया था।

कोहली 2018 में खेल के दोनों रूपों में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले है। वह टेस्ट में 1,000 से अधिक रन बनाने वाले केवल दो बल्लेबाजों में से एक है और एकदिवसीय क्रिकेट में ऐसा करने वाले तीन खिलाड़ियों में शामिल है।

एक जनवरी से 31 दिसंबर, 2018 तक कोहली के नेतृत्व में भारत ने छह टेस्ट जीते और सात हारे। एकदिवसीय मैचों में कोहली की कप्तानी में भारत नौ मैचों में जीत दर्ज करने में सफल रहा जबकि उसे चार में हार का सामना करना पड़ा और एक मैच टाई रहा। कोहली ने 2017 में भी सर गारफील्ड ट्रॉफी और आईसीसी सर्वश्रेष्ठ एकदिवसीय खिलाड़ी के पुरस्कार जीते थे । वह 2012 में भी आईसीसी साल के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी रहे थे।