भारत में बाघों की गणना पर नेशनल ज्योग्राफिक सात अगस्त को डाक्युमेंट्री करेगा प्रसारित

नई दिल्ली:

नेशनल ज्योग्राफिक बाघों की वर्ष 2018 की गणना के तहत इनका पता लगाने और उनकी गिनती करने की प्रक्रिया में शामिल अधिकारियों एवं वन प्रहरियों की कोशिशों को प्रदर्शित करने वाले एक वृत्तचित्र का सात अगस्त को प्रसारण करेगा।

इस वृत्तचित्र का प्रीमियर सात अगस्त को रात आठ बजे नेशनल ज्योग्राफिक और हॉटस्टार पर किया जाएगा।

नेशनल ज्योग्राफिक ने यह घोषणा ऐसे दिन की है, जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ‘‘अखिल भारतीय बाघ अनुमान गणना रिपोर्ट 2018’’ जारी की और कहा कहा कि भारत दुनिया में बाघों के लिए एक सबसे बड़े और सबसे सुरक्षित पर्यावास के रूप में उभरा है।

भारत में #बाघोंकीगिनती कैसे की जाती है, इस प्रक्रिया को समझने के लिए इस वीडियो को देखें।On #InternationalTigerDay PM #narendramodi releases trailer of movie "#CountingTigers".Check out ⬇️ the procedure of counting tigers in #IndiaCourtesy: PIB

Posted by News Chrome on Sunday, July 28, 2019

नेशनल ज्योग्राफिक ने एक बयान में कहा कि ‘‘काउंटिंग टाइगर्स’ वृत्तचित्र बाघों का पता लगाने और उनकी गिनती करने की प्रक्रिया में शामिल अधिकारियों एवं वन प्रहरियों की कोशिशों को दर्शाएगा।

इसमें कहा गया है कि यह वृत्तचित्र भारत की बाघ गणना 2018 के दौरान की गतिवधियों के बारे में दर्शकों को दुर्लभ जानकारी उपलब्ध कराएगा। इसमें इस गणना की सटीकता के लिए इस्तेमाल की गई अत्याधुनिक प्रौद्योगिकी भी शामिल होगी। यह जानना दिलचस्प है कि बाघों की तस्वीरें लेने और एक सॉफ्टवेयर के जरिए उनकी अनूठी धारियों की रिकार्डिंग करने के लिए करीब 15,000 कैमरा ट्रैपों का इस्तेमाल किया गया।

नेशनल ज्योग्राफिक के प्रवक्ता ने वृतचित्र पर कहा, ‘‘दुनिया सबसे करिश्माई जानवर को बचाने की लड़ाई लड़ रही है, ऐसे में ‘काउंटिंग टाइगर्स’ बाघों की निगरानी एवं उनका पता लगाने की जटिलताओं को प्रदर्शित करेगा।’’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *