प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ओडिशा के झारसुगुडा में किया नए हवाई अड्डे का उद्घाटन

झारसुगुडा (ओडिशा):

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को झारसुगुडा में एक नए हवाई अड्डे का उद्घाटन किया और कहा कि यह हवाई अड्डा निवेशकों को खनिज संपदाओं से समृद्ध इस क्षेत्र के प्रति आकर्षित करेगा और राज्य के पश्चिमी क्षेत्र में जीवनरेखा का काम करेगा।

प्रधानमंत्री ने कहा कि यह हवाईअड्डा राज्य को आधुनिक और विकसित राज्य में तब्दील करने में कारगर साबित होगा।

मोदी ने कहा कि ओडिशा में इतने वर्षों से महज एक बड़ा हवाई अड्डा है जबकि अकेले गुजरात के कच्छ जिले में पांच हवाई अड्डे हैं।

उन्होंने कहा, ‘‘अब, राज्य का यह दूसरा हवाई अड्डा ओडिशा के पश्चिमी क्षेत्र में जीवनरेखा का काम करेगा और निवेशकों को खनिज संपदाओं से समृद्ध इस क्षेत्र के प्रति आकर्षित करेगा।’’

उन्होंने कहा कि भाजपा की अगुवाई वाली सरकार विमानन क्षेत्र की मजबूती के लिए ठोस कदम उठा रही है। आजादी से लेकर अबतक देश में बस 450 हवाई अड्डे थे जबकि पिछले एक साल में 950 नये हवाई अड्डों के लिए कदम उठाये गये हैं।

प्रधानमंत्री ने कहा कि ओडिशा, पश्चिम बंगाल, असम समेत समेत पूर्वी भारतीय राज्यों का विकास देश का संतुलित विकास करने के लिए जरूरी है।

उन्होंने कहा कि नये हवाई अड्डे का नाम स्वतंत्रता सेनानी वीर सुरेंद्र साई के नाम पर रखा गया है। ओड़िशा सरकार ने इसकी मांग की थी।

मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने अपने भाषण में इस हवाई अड्डे का नाम साई के नाम पर रखने पर प्रधानमंत्री को धन्यवाद दिया और कहा कि झारसुगुडा से नियमित वाणिज्यिक उड़ानें शीघ्र शुरू करने के लिए कदम उठाये जाने वाहिए। राज्य ने इस हवाई अड्डे की स्थापना के लिए जमीन और मुफ्त बिजली दी है।

गर्जनबहाल ओपेन कास्ट खदान का उद्घाटन

मोदी ने महानदी कोलफील्ड्स लिमिटेड (एमसीएल) की गर्जनबहाल ओपेन कास्ट खदान का भी उद्घाटन किया जिसमें 23 करोड़ टन का कोयला ब्लॉक भंडार है और उसकी सलाना उत्पादन क्षमता 1.3 करोड़ टन है। इससे 894 लोगों को रोजगार के प्रत्यक्ष और 5000 लोगों को रोजगार के परोक्ष अवसर मिलेंगे।

झारसुगुडा सरडेगा रेल लाइन का शुभारंभ

प्रधानमंत्री ने 53.1 किलोमीटर लंबी झारसुगुडा सरडेगा रेल लाइन का भी शुभारंभ किया जिसका निर्माण एमसीएल ने किया है। उन्होंने कहा कि इस रेल लाइन से जनजाति बहुल इस क्षेत्र में कनेक्टिविटी मजबूत होगी।

एनटीपीसी की दुलंगा कोयला खनन परियोजना राष्ट्र को सौंपी

मोदी ने सुंदरगढ़ जिले में एनटीपीसी की दुलंगा कोयला खनन परियोजना राष्ट्र को सौंपी। यह चालू होने वाली इस सरकारी कंपनी की दूसरी और राज्य में उसकी पहली खान है।

भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण ने ओडिशा सरकार के साथ मिलकर 210 करोड़ रुपये की अनुमानित लागत से झारसुगुडा हवाई अड्डे का निर्माण किया है। राज्य सरकार ने 75 करोड़ रुपये का योगदान दिया। यह हवाई अड्डा 1,027.5 एकड़ क्षेत्र में फैला है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *