पुजारा के टेस्ट क्रिकेट में 5000 रन पूरे

एडिलेड:

भारत के स्टार बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा आस्ट्रेलिया के खिलाफ गुरुवार को यहां पहले क्रिकेट टेस्ट के पहले दिन शतकीय पारी के दौरान टेस्ट क्रिकेट में 5000 रन पूरे करने में सफल रहे। पुजारा यह उपलब्धि हासिल करने वाले भारत के 12वें और दुनिया के कुल 96वें बल्लेबाज हैं।

पुजारा ने आस्ट्रेलिया के खिलाफ मौजूदा टेस्ट से पूर्व 64 टेस्ट में 49 .54 की औसत से 15 शतक और 19 अर्धशतक के साथ 4905 रन बनाए थे।
दायें हाथ के इस बल्लेबाज ने अपनी 123 रन की पारी के दौरान 95 रन बनाते ही टेस्ट क्रिकेट में 5000 रन पूरे किए। उन्होंने जोश हेजलवुड पर छक्के के साथ यह उपलब्धि हासिल की।

पुजारा के नाम पर अब 5028 टेस्ट रन हो गए हैं। उन्होंने आस्ट्रेलिया के खिलाफ 246 गेंद की अपनी पारी के दौरान सात चौके और दो छक्के मारे।
टेस्ट क्रिकेट में सर्वाधिक रन बनाने का रिकार्ड भारत के महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर के नाम दर्ज हैं जिन्होंने 200 टेस्ट में 15921 रन बनाए हैं।

 

 

टेस्ट क्रिकेट की मेरी शीर्ष पारियों में से एक है यह शतक: पुजारा

चेतेश्वर पुजारा ने गुरूवार को कहा कि आस्ट्रेलिया के खिलाफ शुरूआती टेस्ट में उनकी धैर्य से खेली गयी शतकीय पारी लंबे प्रारूप में लगाये गये उनके 16 सैकड़ों में शीर्ष पांच में शामिल होगी।

पुजारा ने इस साल विदेशी सरजमीं पर दूसरा शतक जड़ा है। इससे पहले उन्होंने इंग्लैंड में साउथम्पटन में सैकड़ा जमाया था। उन्होंने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ जोहानिसबर्ग और इंग्लैंड के खिलाफ नाटिघंम में मिली जीत के दौरान अर्धशतकीय पारियां भी खेली थीं।

उनके शतक की मदद से एडिलेड टेस्ट में भारत ने स्टंप तक नौ विकेट गंवाकर 250 रन बना लिये थे। दिन का खेल समाप्त होने के बाद उन्होंने कहा, ‘‘यह (गुरूवार की पारी) टेस्ट क्रिकेट में मेरी शीर्ष पारियों में से एक है लेकिन साथी खिलाड़ी इसकी प्रशंसा कर रहे थे और वे कह रहे थे कि यह सर्वश्रेष्ठ में से एक थी। ’’

पुजारा ने 246 गेंद में 123 रन बनाकर भारत को यहां मौजूदा टेस्ट में मुश्किल से निकालने में मदद की।

इस 30 साल के खिलाड़ी ने कहा कि हालांकि उनके 16 में से ज्यादातर (10) सैकड़े घरेलू मैदान पर बने हैं, लेकिन इससे यह नहीं लगता कि वह भारतीय पिचों पर ज्यादा प्रभावी है। पुजारा के केवल तीन शतक ही उप महाद्वीप से बाहर बने हैं।

उन्होंने कहा, ‘‘लोग हमेशा कहते हैं कि मैंने भारत में ज्यादा रन जुटाये हैं। लेकिन साथ ही आपको यह भी देखना होगा कि हम भारत में कितने मैच खेलते हैं। अगर हम भारत में ज्यादा मैच खेलते हैं तो निश्चित रूप से मैं वहीं ज्यादा रन बनाऊंगा।’’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *