हमें हर कश्मीरी को गले लगाना होगा, नया स्वर्ग बनाना होगा : प्रधानमंत्री मोदी

नासिक:

दशकों से कश्मीरियों की दुर्दशा के लिए कांग्रेस को जिम्मेदार ठहराते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बृहस्पतिवार को ‘‘हर कश्मीरी को गले लगाने’’ और घाटी में फिर से ‘नया स्वर्ग’ बनाने का आह्वान किया।

महाराष्ट्र में अगले महीने होने वाले विधानसभा चुनावों के लिए भाजपा के चुनाव प्रचार अभियान की शुरुआत करते हुए मोदी ने कहा कि जम्मू-कश्मीर में हिंसा भड़काने के लिए सीमा पार से बहुत कोशिश की जा रही है। उन्होंने कहा, ‘‘हमें फिर से (कश्मीर में) नया स्वर्ग बनाना है…. हर कश्मीरी को गले लगाएं।’’

‘अनुच्छेद 370 हटाने का फैसला भारत की एकता का फैसला’

मोदी ने कहा कि अनुच्छेद 370 के तहत प्रावधानों को हटाने का फैसला भारत की एकता का फैसला था। उन्होंने कहा, ‘‘यह फैसला जम्मू कश्मीर के लोगों की आकांक्षाओं और सपनों को पूरा करने का जरिया बनने जा रहा है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘जम्मू कश्मीर में अशांति, अविश्वास और हिंसा भड़काने के लिए सीमा पार से काफी कोशिशें की जा रही हैं।’’

मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस द्वारा निकाली गई ‘महाजनादेश यात्रा’ की समापन रैली को संबोधित करते हुए मोदी ने राम मंदिर मुद्दे पर टिप्पणी के लिए सहयोगी दल शिवसेना पर भी निशाना साधा। उन्होंने शिवसेना या उसके किसी नेता का नाम नहीं लिया लेकिन न्यायालय के विचाराधीन इस मामले पर बोलने वालों को ‘बड़बोला’ बताया जिससे कयास लगाए जा रहे हैं उनका निशाना भाजपा के सहयोगी दल की तरफ था।

‘राम मंदिर मुद्दे पर बयान बहादुरों और बड़बोलो को देखकर हैरान हूं’

मोदी ने कहा कि उच्चतम न्यायालय राम मंदिर मामले की सुनवाई कर रहा है और उन्होंने ‘‘कुछ बड़बोलो’’ से इस मुद्दे पर बयान देने से बचने के लिए कहा। उन्होंने रैली में कहा, ‘‘मैं राम मंदिर मुद्दे पर ‘बयान बहादुरों और बड़बोलो’ को देखकर हैरान हूं। देश में हर किसी को उच्चतम न्यायालय का सम्मान करना चाहिए। उच्चतम न्यायालय इस मामले की सुनवाई कर रहा है। मैं हाथ जोड़कर इन लोगों से कहना चाहता हूं कि न्यायिक प्रणाली में विश्वास रखें।’’

गौरतलब है कि शिवसेना राम मंदिर के निर्माण की मांग कर रही है और मोदी सरकार से जम्मू कश्मीर में अनुच्छेद 370 पर उठाए कदमों की तरह कदम उठाने के लिए कह रही है। शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने सोमवार को मांग की कि केंद्र अयोध्या में राम मंदिर बनाने पर कानून लाने के लिए ‘‘साहसी फैसला’’ लें।

‘भारत में बने बुलेटप्रूफ जैकेटों का 100 देशों में निर्यात किया जा रहा है’

संप्रग सरकार पर राष्ट्रीय सुरक्षा पर गंभीर न होने का आरोप लगाते हुए मोदी ने कहा कि कांग्रेस के नेतृत्व वाली सरकार ने सुरक्षाबलों के लिए 1.86 लाख बुलेट प्रूफ जैकेटों की मांग को 2009 में नजरअंदाज कर दिया था। उन्होंने कहा कि भाजपा के नेतृत्व वाली सरकार ने न केवल हमारे बलों की जरूरतों को पूरा किया बल्कि भारत में बनायी जा रही बुलेटप्रूफ जैकेटों को 100 देशों में निर्यात किया जा रहा है।

उन्होंने कहा, ‘‘आज हम अपनी बुलेटप्रूफ जैकेट बना रहे हैं और भारत में बन रही इन जैकेटों का 100 से अधिक देशों में निर्यात किया जा रहा है।’’प्रधानमंत्री ने कहा कि सुरक्षा तैयारी को लेकर पूर्व सरकार का रवैया कभी अच्छा नहीं रहा और इसे बार-बार याद रखे जाने की जरूरत है। मोदी ने कहा, ‘‘साल 2009 में 1.86 लाख बुलेटप्रूफ जैकेटों की मांग की गई। साल 2014 तक हमारे जवान बिना बुलेटप्रूफ जैकेटों के सीमाओं पर लड़ते रहे। राकांपा के समर्थन वाली कांग्रेस सरकार ने कभी इस मांग पर ध्यान नहीं दिया। लेकिन जब भाजपा के नेतृत्व वाली राजग सरकार सत्ता में आयी तो हमने इस प्रक्रिया को बहाल किया और यह सुनिश्चित किया कि जैकेट भारत में बने।’’

शिवाजी महाराज के वंशज ने प्रधानमंत्री को भेंट की पगड़ी

शिवाजी महाराज के वंशज द्वारा भेंट की गयी पगड़ी पहने हुए मोदी ने पाकिस्तान पर टिप्पणी के लिए राकांपा प्रमुख शरद पवार पर भी निशाना साधा। मोदी ने यह भी कहा कि राजनीतिक अस्थिरता के कारण पहले भी राज्य को नुकसान उठाना पड़ा है और उन्होंने भाजपा के पास पूर्ण बहुमत न होने के बावजूद पिछले पांच साल में ‘‘स्थायी सरकार’’ देने के लिए मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस की तारीफ की।

उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय हित में अनुच्छेद 370 पर किए गए निर्णय में सरकार का समर्थन करने के बजाए विपक्षी नेता अपनी क्षुद्र राजनीति के लिए बयान दे रहे हैं। मोदी ने कहा, ‘‘मैं कांग्रेस का भ्रम समझ सकता हूं लेकिन शरद पवार? मुझे खराब लगता है जब उनके जैसा अनुभवी नेता वोट के लिए गलत बयान देता है। उन्होंने कहा कि पवार पड़ोसी देश को पसंद करते हैं। लेकिन हर कोई जानता है कि आतंकवाद की फैक्टरी कहां है?’’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *